Work From Home काफी हो रहा सर्च, इस वेबसाइट पर ढूंडे रिमोट वर्किंग की जाॅब

Work From Home

– Work From Home वाली नौकरियों के सर्च में 377 फीसद की बढ़ोत्तरी 

एलायंस टुडे ब्यूरो

मुंबई। कोरोना वायरस संकट के बीच देश में फरवरी से मई के बीच वर्क फ्रॉम होम या रिमोट वर्किंग की सहूलियत वाली नौकरियों के सर्च में 377 फीसद की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है।

एक रिपोर्ट में ऐसा कहा गया है। नौकरी से जुड़ी वेबसाइट इनडीड की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि देशभर में नौकरी ढूंढने वाले लोग रिमोट वर्किंग की सुविधा वाली नौकरी में जबरदस्त दिलचस्पी दिखा रहे हैं।

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि इस रिपोर्ट में कहा गया है कि ‘remote’और ‘work from home’ जैसे कीवर्ड्स के साथ सर्च में बढ़ोत्तरी हुई है। Indeed की रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में उसके प्लेटफॉर्म पर रिमोट वर्क के साथ सर्च में 377 फीसद से अधिक की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है।

ये है वर्क फ्रॉम होम के लिए सबसे बेस्ट वेबसाइट

indeed.com

इसी तरह, रिमोट वर्क और वर्क फ्रॉम होम से जुड़े जॉब पोस्ट में भी 168 फीसद की भारी वृद्धि देखने को मिली है।

Indeed India के प्रबंध निदेशक शशि कुमार ने कहा, ”कोविड-19 ने हमें काम करने के अपने तरीके को बदलने पर मजबूर कर दिया है। इस वजह से रिमोट वर्किंग में बहुत अधिक बढ़ोत्तरी हुई है और इसके जारी रहने की संभावना है।”

कुमार ने कहा कि उद्योगों को आने वाले समय के लिए कार्यबल से जुड़ी रणनीति के बारे में एकसाथ मिलकर सोचना होगा। इसके साथ ही ऐसे कर्मचारियों को नए तरह से कुशल बनाना होगा, जिनके रोजगार जाने की आशंका है।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 की वजह से बहुत लोगों के प्लान फिलहाल स्थगित हो गए हैं लेकिन इसी बीच ये हमें खुद को तैयार करने का मौका देता है।

Indeed के पूर्व के कुछ अध्ययनों में ऐसा पाया गया था कि नौकरी ढूंढने वालों में 83 फीसद लोग रिमोट वर्क पॉलिसी को महत्वपूर्ण पहलू मानते हैं। यही नहीं 53 फीसद लोग रिमोट वर्किंग का ऑप्शन मिलने पर कम सैलरी लेने के लिए भी तैयार दिखे।

—————————————————–

कृपया ध्यान दें।

एलायंस टुडे हिंदी न्यूज वेब पोर्टल पिछले तीन सालों से अपने दर्शकों-पाठकों को निष्पक्ष और सच्ची खबरें निरंतर उपलब्ध करा रहा है। यह मीडिया जनता के सहयोग से जनता के लिए संचालित है। लोकतंत्र को बचाये रखने के लिए यह मीडिया किसी काॅरपोरेट घराने या राजनीतिक दलों से कोई सहयोग नहीं लेता है। अतः दर्शकों-पाठकों से आशा है कि वे इस मीडिया को अपना उल्लेखनीय योगदान देने का कष्ट करेंगे। स्वैच्छिक योगदान के लिए पेज पर दिए गए लिंक का प्रयोग करें। आपको ऑनलाइन योगदान की रसीद भी तत्काल प्राप्त हो जाएगी। धन्यवाद।

प्रबंध निदेशक

 

Share on

Leave a Reply