लोकसभा चुनाव के नतीजों ने ममता के लिए विधनसभा चुनाव की राहें मुश्किल कर दी हैं

एलायंस टुडे ब्यूरो

alliancetoday
alliancetoday

2014 में टीएमसी को 34 सीटें मिली थीं, वहीं बीजेपी सिर्फ 2 सीटें ही अपने नाम कर पाई थी. इस चुनाव में बीजेपी को 16 सीटों का फायदा हुआ है तो टीएमसी को 12 सीटों का नुकसान उठाना पड़ा है.

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव में बीजेपो को मिली प्रचंड जीत के बाद पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की आगे की राह काफी मुश्किल होती दिख रही है. राज्य में शानदार जीत के बाद बीजेपी की नजरें अब सीएम ममता की कुर्सी पर हैं. राज्य में दो साल बाद विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में राज्य में जीत से उत्साहित बीजेपी अपना कैडर दिन प्रतिदिन मज़बूत कर रही है. इसी बात ने ममता बनर्जी को परेशानी में डाल दिया है. लोकसभा चुनाव में राज्य की 42 सीटों में से बीजेपी ने 18 सीटें जीती हैं. वहीं, ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस ने सिर्फ 22 सीटों पर अपना कब्जा किया है.

इस चुनाव में टीएमसी को हुआ 12 सीटों का नुकसान

ममता की चिंता बढ़ने की एक बड़ी वजह ये भी है, क्योंकि साल 2014 के चुनाव में बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस की जीत में काफी अंतर था. साल 2014 में टीएमसी को जहां 34 सीटें मिली थीं, वहीं बीजेपी सिर्फ दो सीट ही अपने नाम कर पाई थी. यानी इस चुनाव में बीजेपी को 16 सीटों का फायदा हुआ है तो टीएमसी को 12 सीटों का नुकसान उठाना पड़ा है.

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव में बीजेपो को मिली प्रचंड जीत के बाद पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की आगे की राह काफी मुश्किल होती दिख रही है. राज्य में शानदार जीत के बाद बीजेपी की नजरें अब सीएम ममता की कुर्सी पर हैं. राज्य में दो साल बाद विधानसभा चुनाव होने हैं. ऐसे में राज्य में जीत से उत्साहित बीजेपी अपना कैडर दिन प्रतिदिन मज़बूत कर रही है. इसी बात ने ममता बनर्जी को परेशानी में डाल दिया है. लोकसभा चुनाव में राज्य की 42 सीटों में से बीजेपी ने 18 सीटें जीती हैं. वहीं, ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस ने सिर्फ 22 सीटों पर अपना कब्जा किया है.

 

इस चुनाव में टीएमसी को हुआ 12 सीटों का नुकसान

 

ममता की चिंता बढ़ने की एक बड़ी वजह ये भी है, क्योंकि साल 2014 के चुनाव में बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस की जीत में काफी अंतर था. साल 2014 में टीएमसी को जहां 34 सीटें मिली थीं, वहीं बीजेपी सिर्फ दो सीट ही अपने नाम कर पाई थी. यानी इस चुनाव में बीजेपी को 16 सीटों का फायदा हुआ है तो टीएमसी को 12 सीटों का नुकसान उठाना पड़ा है.

राज्य की 129 विधानसभा सीटों पर बीजेपी लीड में है, इससे आने वाले विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी पर अपनी कुर्सी बचाने की चुनौती और कड़ी हो गई है. राज्य में सरकार बनाने के लिए किसी भी पार्टी को 148 सीटें चाहिए. यहां बीजेपी 129 सीटों पर लीड में है ऐसे में अगर वह बहुमत का आंकड़ा छू जाए तो कोई चौंकाने वाली बात नहीं होगी.

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published.