राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी मंजूरी

alliancetoday
alliancetoday

एलायंस टुडे ब्यूरो

नई दिल्ली । सुप्रीम कोर्ट में चार नए जज नियुक्त किए गए हैं और इनकी नियुक्ति को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंजूरी दे दी है. इन चार जजों में बॉम्बे हाईकोर्ट के जस्टिस बी आर गवई, हिमाचल हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस सूर्यकांत, झारखंड के चीफ जस्टिस अनिरुद्ध बोस और गुवाहाटी हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस ए एस बोपन्ना हैं. ये चारों जस्टिस बतौर सुप्रीम कोर्ट के जज कल या शुक्रवार को शपथ ले सकते हैं।

सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने 9 मई को फिर से जस्टिस अनिरूद्ध बोस और जस्टिस एएस बोपन्ना को शीर्ष अदालत का जस्टिस बनाने की सिफारिश की थी. साथ ही दो और नाम केंद्र सरकार को भेजे थे. कॉलेजियम ने जस्टिस बीआर गवई और जस्टिस सूर्यकांत को पदोन्नत कर शीर्ष अदालत का न्यायाधीश बनाने की सिफारिश केन्द्र सरकार से की थी।

इससे पहले केंद्र सरकार ने जस्टिस अनिरूद्ध बोस और जस्टिस एएस बोपन्ना के नाम की कॉलेजियम की सिफारिश लौटा दी थी. जिसके बाद एक बार फिर से सुप्रीम कोर्ट ने दोनों नाम केंद्र को भेजे थे. कॉलेजियम ने कहा था कि उनकी कार्यक्षमता, आचरण और निष्ठा के बारे में कुछ भी प्रतिकूल नहीं मिला है।

जस्टिस अनिरूद्ध बोस झारखंड हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस हैं और जस्टिस ए एस बोपन्ना गोवाहाटी हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस हैं. जस्टिस बोस न्यायाधीशों की अखिल भारतीय वरिष्ठता के क्रम में 12वें नंबर पर हैं. उनका मूल हाई कोर्ट कलकत्ता हाई कोर्ट रहा है. जस्टिस बोपन्ना वरिष्ठता क्रम में 36वें नंबर पर हैं. पिछले साल जब न्यायमूर्ति बोस के नाम की सिफारिश दिल्ली हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश पद के लिए की गयी थी तब भी सरकार ने उनका नाम लौटा दिया था।

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published.