दर्दनाक: प्रतापगढ़ में युवक को पेड़ से बांधकर जिंदा जलाया

युवक को पेड़ से बांधकर जिंदा जलाया

एलायंस टुडे ब्यूरो

प्रतापगढ़। प्रेम-प्रसंग के मामले में प्रतापगढ़ में सोमवार को युवक को पेड़ से बांधकर जलाने के मामले में पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। मृतक के परिवार के लोगों के साथ ही ग्रामीणों के आक्रोश में आकर पुलिस की टीमों पर हमला बोलने के बाद से वहां पर माहौल काफी तनावपूर्ण है और जिले भर भी फोर्स मौके पर है।

अंबिका पटेल को पेड़ से बांधकर जिंदा जलाकर मार डालने व पुलिस पर हमले के मामले में देर रात तक घटनास्थल पर रहे एसपी ने दो मुकदमे दर्ज कराए हैं। एक मुकदमा युवक को जिंदा जलाकर मार डालने के मामले में तीन नामजद व कुछ अज्ञात पर दर्ज हुआ।

इसमें दो आरोपित हरिशंकर व शुभम को पकड़ लिया गया। दूसरा मुकदमा पुलिस की गाड़ी जलाने व हमले का है, जिसमें पांच लोग पकड़े गए। एसपी अभिषेक सिंह ने बताया कि मौके पर तनाव को देखते हुए फोर्स तैनात की गई है। गांव में तनाव का माहौल है।

प्रतापगढ़ के के फतनपुर थाना के भूजैनी गांव में सोमवार रात अम्बिका पटेल को पेड़ से बांधकर जिन्दा जलाने के मामले की तहकीकात करने पहुंचे फतनपुर एसओ तथा उनकी टीम पर आक्रोशित मृतक के परिजन व ग्रामीणो ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया और पुलिस की दो बोलेरो गाड़ी में भी आग लगा दिया।

इसके बाद मौके पर दस थानों की फोर्स रात में पहुंची। वहां के माहौल को देखकर डीएम और एसएसपी भी पहुंचे। पूरे गांव को घेर लिया गया। इसके बाद फोर्स ने देर रात आरोपित हरिशंकर, शुभम को गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल गांव में फोर्स तैनात है। आरोपितों को आज ही कोर्ट में भी पेश किया जाएगा।

गौरतलब है कि प्रतापगढ़ के फतनपुर क्षेत्र के भुजैनी गांव निवासी 25 वर्षीय अंबिका प्रसाद पटेल को सोमवार रात पेड़ से बांधकर जिंदा फूंक दिया गया। उसकी मौत से गुस्साए ग्रामीणों ने वहां पहुंची पुलिस की पीआरवी 112 और फतनपुर थाने की जीप को फूंक दिया। पुलिस वालों ने भागकर जान बचाई।

पुलिस के मुताबिक भुजैनी गांव का अंबिका पटेल अपने ही गांव की एक युवती से प्रेम करता था। इसे लेकर दोनों परिवार में कई बार विवाद हुआ था। हाल ही में युवती का सिपाही के पद पर चयन हो गया और वह कानपुर में तैनात है। आरोप है कुछ महीने पहले अंबिका ने अपनी प्रेमिका का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

इससे काफी नाराज महिला सिपाही के घरवालों ने अंबिका पटेल के खिलाफ फतनपुर थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस ने गिरफ्तार कर उसे जेल भेज दिया था। अभी कुछ दिन पहले ही वह जमानत पर जेल से छूटकर बाहर आया था।

घरवालों का आरोप है कि सोमवार रात करीब 10 बजे कुछ लोग उनके घर आए और अंबिका को उठा ले गए और उसे एक पेड़ में बांधकर पेट्रोल डालकर जिंदा फूंक दिया। घटना की जानकारी होने पर वहां तमाम ग्रामीण पहुंच गए और हंगामा शुरू कर दिया। खबर पाकर पीआरवी 112 और एसओ फतनपुर मौके पर पहुंचे।

पुलिस को देखते ही ग्रामीण आक्रोशित हो गए और दोनों सरकारी वाहनों में आग लगा दी। हालात को देखते थानेदार समेत सभी पुलिसकर्मी जान बचाकर भाग निकले। हंगामे की सूचना पर एसपी अभिषेक सिंह कई थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। उन्होंने बताया स्थिति नियंत्रित है।

सच्ची और अच्छी खबरों में अपडेट रहने के लिए एलायंस टुडे से और संबंध बनाइए

फाॅलो करिए –

YouTube

Facebook

Instagram

Twitter

Helo App

TikTok

Share on

Leave a Reply