अब महिलाओं के लिए मेट्रो-बस की यात्रा मुफ्त

alliancetoday
alliancetoday

एलायंस टुडे ब्यूरो

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मेट्रो और डीटीसी बसों में महिला यात्रियों के लिए मुफ्त सफर का बड़ा ऐलान किया है। केजरीवाल ने सोमवार को इस फैसले की जानकारी देते हुए कहा कि अगले 2 से 3 महीने में यह व्यवस्था लागू कर दी जाएगी। लोकसभा चुनावों में पार्टी को मिली करारी हार के बाद माना जा रहा था कि मतदाताओं के बीच फिर से अपनी पैठ बनाने के लिए केजरीवाल सरकार कुछ बड़े ऐलान कर सकती है। हालांकि, सीएम ने इसे चुनावी प्रलोभन के आरोपों पर कहा कि अच्छे काम का कोई वक्त नहीं होता। किसी खास प्रयोजन को ध्यान में रखकर नहीं महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखकर यह योजना शुरू कर रहे हैं।

शहर के सभी स्कूलों में लगेगा कैमरा

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि शहर के सभी स्कूलों में कैमरे लगाने का काम नवंबर तक पूरा कर लिया जाएगा। 8 जून से कैमरे लगने शुरू हो जाएंगे। 70 हजार कैमरों पर सर्वे हो गया है। आने वाले समय मे 2.5 लाख कैमरे लग जाएंगे। उन्होंने बसों और मेट्रो में महिलाओं के मुफ्त सफर के फैसले पर कहा, श्आम परिवारों की बेटियां जब कॉलेज के लिए निकलती हैं, महिलाएं नौकरी के लिए निकलती हैं तो लोगों का दिल धक-धक करता रहता है। उनकी सुरक्षा की चिंता बनी रहती है। उसको ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार ने निर्णय लिया है कि सभी डीटीसी बसों, मेट्रो और क्लस्टर बसों में महिलाओं का किराया फ्री किया जाएगा। हमारा उद्देश्य है कि महिलाएं ज्यादा से ज्यादा पब्लिक ट्रांसपॉर्ट का इस्तेमाल कर सकें। दिल्ली के सीएम ने महिलाओं से यह भी आग्रह किया कि जो महिलाएं किराया वहन करने में सक्षम हैं, वह सब्सिडी का प्रयोग न करें। उन्होंने कहा, इसमें प्रावधान ऐसा होगा कि कुछ महिलाएं किराया अफोर्ड कर सकती हैं, तो हम उनको प्रोत्साहित करेंगे कि सब्सिडी का इस्तेमाल न करें। अधिकारियों को 1 हफ्ते का टाइम दिया गया है कि डिटेल प्रपोजल बनाकर लाएं। कोशिश करेंगे कि 2-3 महीने में इस व्यवस्था को लागू किया जा सके।

फिर बोली केंद्र सरकार

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि इस व्यवस्था को शुरू करने में जो भी खर्चा है वह दिल्ली सरकार देगी। उन्होंने कहा, पहले हमने केंद्र सरकार को किराया नहीं बढ़ाने का निवेदन किया, फिर 50-50 पार्टनरशिप में सब्सिडीका निवेदन किया, लेकिन केंद्र सरकार नहीं मानी। हम पूरे खर्चे का वहन करने जा रहे हैं और इसके लिए केंद्र सरकार से अप्रूवल की जरूरत नहीं है।

सेवा में 700 से 800 करोड़ तक का खर्च

दिल्ली के सीएम से जब इस योजना के लिए होनेवाले खर्च का ब्यौरा पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मोटे तौर पर बचे हुए 6-7 महीने में 700 से 800 करोड़ तक का खर्चा होगा। उन्होंने कहा, श्30 से 33ः महिलाएं हैं जो मेट्रो और बसों में सफर करती हैं। कुल मिलाकर इस साल के बचे हुए महीनों में यह खर्चा 700 से 800 करोड़ तक का हो सकता है। अधिकारियों से 1 सप्ताह में इसकी विस्तृत रिपोर्ट मांगी गई है।

सारी बसों में लगेंगे कैमरे

दिल्ली में महिलाओं के सफर को सुरक्षित बनाने पर जोर देते हुए आप संयोजक ने कहा, क्लस्टर बसों में मार्शल तैनात किए जाएंगे और पोस्टर भी लगाए जाएंगे कि इस बस में मार्शल तैनात हैं। डीटीसी की सभी बसों में कैमरा लगाने का काम इस साल में पूरा किया जाएगा। डीटीसी बसों में पहले से ही मार्शल तैनात हैं और हम पोस्टर भी लगाएंगे ताकि महिलाओं को पता रहे कि बस में मॉर्शल तैनात हैं।

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published.