अगर आप अपने बच्चे को जबरदस्ती खाना खिलाते हैं तो हो सकता है ये नुकसान

अगर आप अपने बच्चे को जबरदस्ती खाना खिलाते हैं तो हो सकता है ये नुकसान
Source : Google

एलायंस टुडे डेस्क

अक्सर बच्चे खाना खाने में आनाकानी करते हैं और बच्चों को पूरा पोषण देने के लिए मां-बाप उसे जबरदस्ती खाना खिलाते हैं। माता-पिता खुद ही ये निर्णय ले लेते हैं कि उनके बच्चे को क्या और कितनी मात्रा में खाना है और अगर वो ऐसा नहीं करता है तो इस स्थिति में पैरेंट्स बच्चों को जबरदस्ती खाना खिलाने लगते हैं।

अगर आप भी अपने बच्चे को जबरदस्ती खाना खिलाते हैं तो इसके नुकसान के बारे में जान लेना आपके लिए बहुत जरूरी है। आइए जानते हैं कि बच्चों को उनकी मर्जी के बिना या जबरदस्ती खाना खिलाने के क्या नुकसान होते हैं।

यह भी पढे़ं – चरवाहे को हुआ कोरोना तो 47 बकरियों को कर दिया क्वारंटीन, जरूर पढ़ें

बच्चों को जबरन खाना खिलाने से क्या होता है

अपनी मर्जी के बिना खाने पर बच्चे खाना मुंह से बाहर निकाल देते हैं या उल्टी कर देते हैं। हो सकता है कि आप जो खिला रहे हैं, वो बच्चे को पसंद न हो। नापसंद चीजों को भी खाने से बच्चे मना कर देते हैं।

कई बार हम भूख न लगने पर भी बच्चों को खिलाते रहते हैं, इससे उनकी भूख मर जाती है। जबरदस्ती खिलाने से बच्चों की खाने के प्रति नकारात्मक भावनाएं विकसित हो सकती हैं। हेल्दी फूड खाने से आनाकानी करने पर बच्चे में खानपान से जुड़ी गलत आदतें पैदा हो सकती हैं।

अन्य हानिकारक प्रभाव

जब आप अपने बच्चे को जबरन खाना खिलाते हैं तो इसकी वजह से बच्चे अपनी खानपान की आदतों पर से नियंत्रण खो सकते हैं। जबरदस्ती खाना खिलाने की वजह से बड़ा होने पर बच्चा ज्यादा खाने की बजाय कम खाने लग सकता है। वहीं बड़ा होने पर बच्चे में किसी खास फूड के प्रति नापसंद पैदा हो सकती है।

बच्चों को खाना कैसे खिलाएं

अगर आप चाहते हैं कि आपका बच्चा ठीक तरह से खाना खाए तो आप भी उसके साथ ही खाना खाने बैठें। बच्चे को कोई नई चीज खिलाते समय धैर्य रखें। यदि खाने से बच्चे का ध्यान हटता है तो उसका ध्यान वापस खाने पर लाने की कोशिश करें। बच्चों को खाना खिलाने का काम बहुत धैर्य का होता है इसलिए आपको अपने बच्चे के सही विकास और पोषण के लिए धैर्य से ही काम लेना है।

बच्चों की आदत कैसे सुधारें

आपको अपने बच्चे के लिए रोल मॉडल बनना पड़ेगा। इसके साथ ही खाने का समय और फूड उसे खुद चुनने दें। इससे बच्चे में अच्छी ईटिंग हैबिट आएंगीं। बच्चे को पौष्टिक आहार खिलाना बहुत जरूरी है लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि आप उसे जबरदस्ती खाना खिलाएं।

जबरदस्ती खाना खिलाने का कोई फायदा नहीं

माना कि आप अपने बच्चे को संपूर्ण पोषण देकर स्वस्थ बनाना चाहते हैं कि लेकिन उसे जबरदस्ती खाना खिलाने का कोई फायदा नहीं है। ऐसा करने के सिर्फ नुकसान ही होते हैं और बच्चे में भी कई तरह की गलत आदतें पनप सकती हैं।

आपको अपने बच्चे को जबरदस्ती खाना न खिलाना पड़े, इसके लिए कोशिश करें कि उसकी पसंद की ऐसी चीजें बनाएं जो हेल्दी भी हों। इस तरह बच्चा खाने में आनाकानी भी नहीं करेगा और उसे संपूर्ण पोषण भी मिल जाएगा।

सच्ची और अच्छी खबरों में अपडेट रहने के लिए एलायंस टुडे से और संबंध बनाइए

फाॅलो करिए –

YouTube

Facebook

Instagram

Twitter

Helo App

TikTok

Share on

Leave a Reply