2 महीने की बकाया सैलरी मिली

alliancetoday
alliancetoday

एलायंस टुडे ब्यूरो

नई दिल्ली । राजधानी दिल्ली के हिंदूराव अस्पतालके रेजिडेंट डॉक्टरों का दो महीने का बकाया वेतन मिलने के बाद मंगलवार को उनकी हड़ताल खत्म हो गई। डॉक्टर्स 16 मई से ही हड़ताल पर थे। पहले उन्होंने 3-3 घंटे के लिए पेनडाउन स्ट्राइक किया लेकिन, इसके बाद भी उनकी मांगें नहीं माने जाने पर सोमवार को सभी रेजिडेंट डॉक्टर्स अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए थे, जिससे अस्पताल में भर्ती मरीजों की हालत बेहद खराब हो गई थी। मरीजों को ना तो दवाइयां मिल रही थी और न ही उन्हें अस्पताल में भर्ती किया जा रहा था।

हिंदूराव अस्पताल के रेजिडेंट डॉक्टर्स असोसिएशन के प्रेजिडेंट डॉक्टर राहुल चौधरी व जनरल सेक्रेटरी डॉक्टर संजीव चौधरी के अनुसार, डॉक्टरों का तीन महीने का वेतन बकाया था। वे कई बार बकाया वेतन दिलाने की मांग अस्पताल के मेडिकल सुपरिंटेंडेंट से कर चुके थे, लेकिन हर बार उनकी मांगों को दरकिनार कर दिया जा रहा था। इसके बाद डॉक्टरों ने अडिशनल कमिश्नर (हेल्थ) से बात की। लेकिन उनका भी रवैया भी डॉक्टरों के प्रति ठीक नहीं रहा। अडिशनल कमिश्नर डॉक्टरों की समस्याओं को हल करने के बजाय उन्हें वापस काम पर न लौटने पर परिणाम भुगतने की चेतावनी देने लगे।

परेशान डॉक्टरों का गुस्सा और भड़क गया और वे सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए। जबतक वेतन नहीं मिलता, तबतक वे हड़ताल खत्म करने को राजी नहीं थी। मंगलवार दोपहर सभी रेजिडेंट डॉक्टरों के खाते में मार्च और अप्रैल की सैलरी आई। सैलरी मिलते ही डॉक्टरों ने हड़ताल वापस ले ली। उसी समय से डॉक्टर्स काम पर भी लौट गए। अस्पताल में स्थिति समान्य होने में एक या दो दिनों का वक्त लगेगा। सर्जरी मंगलवार शाम से दोबारा शुरू कर दी गई। डॉक्टरों का कहना है कि तीसरे महीने की सैलरी अगले कुछ दिनों में भेजने का भरोसा एमसीडी अफसरों ने दिया है।

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published.