12 नम्बरों की कॉल डिटेल का सुराग निकालनें में जुटी पुलिस

होटल व्यापारी मुकेश मनवानी की हत्या में फरार चल रहे मंजीत सिंह दुआ की तलाश 12 नम्बरों की कॉल डिटेल के आधार पर की जा रही है। इनमें से एक नम्बर की डिटेल से ही पुलिस को पता चला था कि वह पंजाब में कुछ दिन रहा है। अब वह पंजाब में ही है या वहां से कहीं और चला गया है? इस बारे में अभी उन्नाव पुलिस अपनी पड़ताल कर रही है। ये मोबाइल नम्बर मंजीत के करीबियों के हैं। घटना के बाद इन नम्बरों पर मनजीत की बात कई बार हुई है। सफीपुर इंस्पेक्टर अरुण कुमार द्विवेदी ने शनिवार को लखनऊ में दबिश दी थी तो कई नम्बरों के बारे में पता चला था। इन नम्बरों की जब कॉल डिटेल निकाली थी तो चौंकाने वाले कई जानकारियां सामने आई। जब उन्नाव की एसपी नेहा पाण्डेय को यह बात पता चली तो उन्होंने तुरन्त सभी नम्बरों की कॉल डिटेल देखी। इनमें से 12 ऐसे मोबाइल नम्बर थे जिन पर मंजीत ने हत्या के बाद से कई बार बात की थी। फिर डिटेल खंगाली गई तो कई खुलासे हुये। पंजाब भी जा सकती है टीम अभी पुलिस पूरी तरह से इसके लिये मुतमईन नहीं है कि मंजीत सिंह अभी पंजाब में ही है। हालांकि इसके लिये एक टीम लगा दी गई है। यह भी कहा जा रहा है कि उन्नाव से पुलिस की एक टीम पंजाब भी जा सकती है। पंजाब पुलिस से इस सम्बन्ध में बात की जा रही है। सीसी फुटेज में एक साथ दिखे थे मंजीत व राजेन्द्र बताया जाता है कि एक पुलिस अफसर पहले मंजीत को बचाना चाहते थे। इसके पीछे तर्क था कि एक फुटेज में मंजीत घटना के समय एक दुकान पर बैठा दिखा था। लिहाजा वह कैसे घटना में शामिल हो सकता है। इस पर सवाल यह उठा कि इस फुटेज में ही मंजीत के साथ राजेन्द्र सिंह दुआ भी साथ दिखे थे। ऐसे में राजेन्द्र को गिरफ्तार किया गया तो मंजीत की गिरफ्तारी क्यों नहीं। इसके बाद ही मुकेश के घर वालों ने एडीजी से इसकी विवेचना किसी दूसरे जिले की पुलिस से करवाने की बात कही थी।

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published.