सूफी गायक प्यारेलाल वडाली का निधन


एलायंस टुडे ब्यूरो

अमृतसर। पीएम नरेंद्र मोदी ने सूफी गायक प्यारेलाल वडाली के निधन पर आज शोक व्यक्त किया और कहा कि उनका काम लोगों को सूफी संगीत की ओर आकर्षित करता रहेगा। पंजाबी सूफी गायक‘ वडाली ब्रदर्स की जोड़ी के प्यारेलाल वडाली का 75 साल की उम्र में आज अमृतसर में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। प्रधानमंत्री कार्यालय ने मोदी को उद्धृत करते हुए एक ट्वीट में लिखा कि प्यारेलाल वडाली के निधन से दुखी हूं। उनके गायन ने उन्हें वैश्विक स्तर पर काफी लोकप्रियता दिलायी। उनका काम लोगों को सूफी संगीत की ओर आकर्षित करता रहेगा। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें। गौरतलब है कि वडाली ने अपने बड़े भाई पूरन चंद वडाली के साथ मिलकर कई लोकप्रिय गाने गाये जिसमें से तू माने या न माने और तनु वेड्स मनु का रंगरेज मेरे शामिल है। उन्हें सीने में दर्द की शिकायत के बाद सोमवार को अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। उनकी हालत बिगड़ने के बाद उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया लेकिन उनकी सेहत में सुधार नहीं हुआ। गायक के परिवार में उनकी पत्नी, दो बेटें और तीन बेटियां हैं। वडाली और उनके भाई को राज्य औरराष्ट्रीय स्तर पर कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है। गायिका ऋचा शर्मा ने वडाली के निधन की खबर को संगीत की दुनिया के लिए बेहद दुखद दिन बताया है। उन्होंने कहा कि संगीत उद्योग और प्रशंसकों के लिए एक बुरी खबर!! प्यारे लाल वडाली हमारे बीच नहीं रहे… भगवान उनकी आत्मा को शांति दे। सूफी गायिका हर्षदीप कौर ने ट्वीट किया कि संगीत की दुनिया के लिए बेहद बुरी खबर… विश्वास नहीं हो रहा कि प्यारे लाल वडाली जी अब हमारे बीच नहीं रहे…. उनका संगीत हमेशा जीवित रहेगा। शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने भी गायक के मौत पर शोक व्यक्त किया।

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published.