वार्ता के बाद बिजली अभियन्ताओं का आन्दोलन स्थगित

एलायंस टुडे ब्यूरो

लखनऊ। पीलीभीत में विद्युत अभियन्ताओं व अधीनस्थ कर्मचारियों के साथ वकीलों द्वारा की गयी मार-पीट व उपकेन्द्र पर तोड़-फोड़कर सरकारी सम्पत्ति को क्षति पहुंचाने वालों पर रासुका लगाकर गिरफ्तार करने तथा विद्युत अभियन्ताओं पर बढ़ते हमलों से विद्युत अभियन्ताओं का विगत एक सप्ताह से चल रहा आन्दोलन चेयरमैन के साथ हुई वार्ता में विद्युत अभियन्ताओं को पूर्ण सुरक्षा प्रदान करने के आश्वासन के साथ स्थगित करने का निर्णय किया गया। यह जानकारी विद्युत अभियन्ता संघ के महासचिव राजीव सिंह ने दी। विद्युत अभियन्ता संघ के महासचिव राजीव सिंह व अध्यक्ष जीके मिश्रा ने बयान जारी कर कहा कि अराजक तत्वों द्वारा अभियन्ताओं के साथ मार-पीट, अभद्र व्यवहार, जानलेवा हमले, झूठी एफ0आई0आर0 आदि के बढ़ते मामलों से पूरे विद्युत अभियन्ता उद्वेलित हैं। अभियन्ताओं ने स्वयं की, अधीनस्थ टीम की तथा सरकारी सम्पत्ति की सुरक्षा करने के लिए विगत एक सप्ताह से आन्दोलन कर रहे हैं। विद्युत अभियन्ताओं के आन्दोलन के दृष्टिगत चेयरमैन पावर कारपोरेशन ने बुधवार को विद्युत अभियन्ताओं के साथ वार्ता की। वार्ता में चेयरमैन ने अभियन्ताओं को पूर्ण सुरक्षा देने व हमलावरों पर ठोस कानूनी कार्यवाही का अश्वासन दिया। अभियन्ताओं की लम्बित मांग ‘‘इंजीनियर्स प्रोटेक्शन एक्ट’’ बनाने के लिए सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया। चेयरमैन ने जिला एवं कमीशनरी स्तर पर अभियन्ताओं के तय प्रोटोकाॅल का पालन सुनिश्चित करने का आश्वासन दिया तथा अभियन्ताओं की वेतन विसंगतियों पर प्रबन्ध निदेशक के साथ द्विपक्षीय वार्ता करने के लिए कहा गया है। पदाधिकारियों ने बताया कि बेहतर कार्य संस्कृति का पालन करने तथा अभियन्ताओं को अत्यधिक दबाव से मुक्त रखने हेतु रविवार एवं अन्य सार्वजनिक अवकाश के दिनों में मीटिंग आदि न करने तथा कार्यालय न खोले जाने पर सहमति जताते हुए इस सम्बन्ध में अधीनस्थों को निर्देशित किया। चेयरमैन द्वारा विद्युत अभियन्ताओं के ज्वलन्त मुद्दों पर ठोस कार्यवाही किये जाने के आश्वासन पर विद्युत अभियन्ताओं ने अपना आन्दोलन स्थगित रखने का निर्णय लिया। वार्ता में कारपोरेशन की ओर से चयेरमैन, प्रबन्ध निदेशक, निदेशक (कार्मिक) तथा संघ की ओर से अध्यक्ष, महासचिव व वरिष्ठ उपाध्यक्ष उपस्थित रहे।

Share on

Leave a Reply