लेसा कर्मचारियों ने कार्य बहिष्कार किया

एलायंस टुडे ब्यूरो

लखनऊ। विद्युत मजदूर संगठन और विद्युत संविदा मजदूर संगठन उप्र के संयुक्त आवाहन पर बुधवार को लेसा के कर्मचारियों ने बढ़-चढ़ कर कार्य बहिष्कार मे हिस्सा लिया और लेसा भवन पर प्रदर्शन किया।
संगठन के महामंत्री और मीडिया प्रभारी विमल चंद्र पांडे ने कार्यक्रम का नेतृत्व किया तथा महात्मा पांडे ने सभा की अध्यक्षता की। सभा को श्रीचंद महामंत्री महामंत्री व केन्द्रीय उपाध्यक्ष आरवाई शुक्ला के अतिरिक्त आफाक हुसैन, गंगाधर त्रिपाठी, एसके सिंह, विक्रम सिंह आदि प्रमुख लोगों ने सम्बोधित किया।
सभा में पुरानी पेंशन बहाल किये जाने, तृतीय श्रेणी को 4200 ग्रेड पे तथा चतुर्थ श्रेणी को 2600 ग्रेड पे, संविदा कर्मियों को न्यूनतम 25 हजार रूपये माहवारी वेतन व विभाग द्वारा सीधे वेतन का भुगतान किये जाने की मांग मुख्य रूप से उठाई गयी।
मीडिया प्रभारी विमल चंद पांडे ने बताया कि 72 घंटे कार्य बहिष्कार के प्रथम दिन आज प्रदेश के सभी जिलों, परियोजनाओं और महानगरों मे बिजली कर्मचारियों और संविदा कर्मियों ने एक जुट होकर पुरजोर तरीके से कार्य बहिष्कार मे भाग लिया। भारी संख्या में कर्मचारियों के काम से अलग होने के कारण राजस्व वसूली पर विपरीत प्रभाव दिखाई दिया।
श्री पांडे ने दावा किया कि संविदा कर्मियों द्वारा पूरे प्रदेश मे कार्य बहिष्कार किये जाने के फलस्वरूप बिजली व्यवस्था पटरी से उतर गयी। तमाम नगरों के अनेक मुहल्लों की लाइनों के ब्रेक डाउन के अटेन्ड न होने से विद्युत व्यवधान उत्पन्न हो गया है। उन्होंने कहा कि यदि बातचीत द्वारा समाधान नहीं निकाला गया और कार्य बहिष्कार जारी रहा तो विद्युत व्यवस्था को दुरुस्त रखना कठिन होगा।

Share on

Leave a Reply