यूपी में अब कानून का राज

 

यूपी की भाजपा सरकार के मंगलवार को छह महीने पूरे हो गए। अपनी सरकार की परफार्मेंस से आत्मविश्वास में आए मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में लोग अब खुद को सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि छह महीने में प्रदेश में जंगलराज खत्म कर कानून-व्यवस्था को बेहतर कर दिया है। प्रदेश को परिवारवाद और जातिवाद के शिकंजे से बाहर निकाल कर विकास की राह पर डाला है।

सीएम ने कहा कि अब बेहतर माहौल में यूपी को तेजी से आगे बढ़ाया जाएगा। इसकी शुरुआत हो चुकी है। उनकी सरकार जल्द बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे व पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर काम शुरू करेगी। इसी 2 अक्टूबर से सचिवालय में शुरू हो रही ई-आफिस के जरिए भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने का काम होगा। अब सरकारी दफ्तरों में कोई भी फाइल एक टेबल पर तीन दिन से ज्यादा नहीं रुकेगी। अब युवाओं के लिए रोजगार की बाढ़ आ जाएगी। केंद्र की अनुमति मिली तो सरकार खतौनी को आधार से लिंक करेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने सोमवार को पिछली सरकारों की नाकामियों पर श्वेत पत्र जारी किया था। आज मंगलवार को उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस कर अपनी छह छह माह पुरानी सरकार की उपलब्धियों पर ‘बढ़ चला उत्तर प्रदेश एक नई दिशा की ओर’ पुस्तिका जारी की और अपनी सरकार के कामकाज की चर्चा की।
उन्होंने सपा मुखिया अखिलेश यादव पर निशाना साधा और भविष्य की योजनाओं की भी चर्चा की। सीएम ने कहा कि इस साल 10 लाख युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ा जायेगा। रोजगार के लिए छह महीने में पुलिस भर्ती प्रक्रिया बढ़ाई गई है। आने वाले समय में डेढ़ लाख पुलिस भर्ती होगी। सीएम ने कहा कि औद्योगिक निवेश के लिए माहौल बना है। उनकी सरकार बनने से पहले प्रदेश में औसतन हर हफ़्ते दो दंगे होते थे। यूपी में मार्च, 2017 के बाद एक भी दंगा नहीं हुआ है। आगे भी यूपी में कोई दंगा नहीं होने दिया जाएगा। मुजफ्फरनगर दंगों के संदर्भ में सीएम ने कहा कि पिछली सरकार में कई बार तो दंगाइयों को मुख्यमंत्री आवास में सम्मानित तक किया गया है। पिछली सरकारों ने राज्य की पूरी व्यवस्था ही तहस नहस कर दी थी।
सीएम ने अपने पूर्ववर्ती अखिलेश यादव का नाम लेते हुए कहा कि वह ट्वीट कर किसानों की हंसी उड़ाने का काम कर रहे हैं। आने वाले वक्त में वह कहीं खुद ही हंसी का पात्र न बन जाएं। कर्ज चुकाने वाले किसानों की सराहना करते हुए उन्होंने ऐलान किया कि सरकार उनको भी बढ़ावा देगी। सीएम से पूछा गया कि अखिलेश यादव ने कुछ किसानों को बहुत कम राशि का कर्ज माफी प्रमाण दिए जाने की बात कही है तो सीएम ने कहा जिन्होंने किसानों के लिए कुछ नहीं किया उन्हें स्वयं सोचना चाहिए। केवल 4 हजार से कम ऐसे किसान हैं जिनका 1 रुपए से 10 हजार रुपये तक कर्ज माफ हुआ है, लेकिन लाखों किसान ऐसे हैं जिनका 10 हजार से एक लाख तक कर्ज माफ हुआ है। केवल चार हजार किसानों के कर्ज ही दस हजार रुपए से कम थे। वह किसानों की हंसी उड़ाने का काम कर रहे हैं। कहीं खुद ही हंसी का पात्र न बन जाएं।
सीएम ने कहा कि मार्च 2017 से पहले प्रदेश में जंगलराज को उनकी सरकार ने समाप्त किया और अब कानून व्यवस्था को बेहतर किया। पहले प्रदेश में निवेश फ्रेंडली माहौल नहीं था। उत्तर प्रदेश में बीते 15 वर्ष से अराजकता थी। सरकार की तत्परता का ही नतीजा है कि पिछले छह माह में प्रदेश में एक भी दंगा नहीं हुआ है, जबकि पिछली सरकार में हर हफ्ते दो दंगे होते थे। अपराधी या तो जेल में हैं या राज्य से बाहर।
मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने कहा कि प्रदेश के विकास के लिए एयर कनेक्टिविटी पर काम किया जा रहा है। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के निर्माण लिए काम चल रहा है। दवा खरीद की केंद्रीय व्यवस्था की गई है। इससे सरकारी अस्पतालों में होने वाली दवा खरीद में लूटपाट नहीं हो सकेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्वी यूपी के 38 जिलों में 92 लाख बच्चों को इन्सेफेलाइटिस की वैक्सीन दी गई है। सीएम ने कहा कि प्रचंड बहुमत के अनुरूप हमारी कार्य पद्धति हो ऐसी कार्यप्रणाली की जरूरत थी। उन्होंने कहा कि हमने अभी तक 33 लाख अपात्र राशन कार्डों को निरस्त कर पात्रों को राशन कार्ड दिया।
सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश में बीते 15 वर्ष में नौकरी देने के नाम पर जम कर धांधली होती थी। सरकारी नौकरियों में पात्र लोग वंचित रहते थे, जबकि भाई-भतीजावाद के कारण अपात्रों को नौकरी मिल जाती थी। हमने इसे रोकने के लिए सरकारी नौकरियों में साक्षात्कार खत्म कर दिया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि अब पुलिस का मनोबल बढ़ा हुआ है। अपराधियों से आमने-सामने की मुठभेड़ की 431 घटनाएं हुई हैं। इसमें जिनमें 17 कुख्यात अपराधी मारे जा चुके हैं। 668 इनामी अपराधियों समेत 1106 अपराधी गिरफ्तार किये जा चुके हैं। साथ ही 69 अपराधियों की सम्पत्तियां जब्त की गयी हैं।

अब होंगे ये बड़े काम

-सड़कों को गड्ढा मुक्त करने का अभियान फिर एक अक्टूबर से शुरू होगा।
-बची हुई सड़कों को 31 दिसंबर से पहले गड्ढा मुक्त किया जाएगा।
-तीन साल में पुलिस की 1.5 लाख पोस्ट पर होंगी नियुक्तियां।
– स्कूली बच्चों को जूते मोज़े दिए गए हैं। और आने वाली सर्दियों में स्कूली बच्चों को स्वेटर भी दिए जाएंगे।
– खतौनी से जुड़ेगा आधार।

छह महीने में यह सब हुआ 
– छह महीनों में 33 लाख फर्जी राशन कार्ड मिले।
– यूपी में जीएसटी लागू होने के बाद बाद 30 प्रतिशत तक राजस्व बढ़ा गया।
-भूमाफियाओं से सरकारी जमीन खाली कराई गई।
-95 प्रतिशत गन्ना किसानों का भुगतान किया गया और अब सत्र शुरू होने से पहले सौ प्रतिशत भुगतान कराया जाएगा।
-मंत्रियों की मेहनत से लोगों में विश्वास पैदा हुआ है।
-आज लोग महसूस कर रहे हैं कि वो सुरक्षित हैं, 6 महीने में भय का वातावरण दूर हुआ है।
-यूपी पुलिस की कार्रवाई दूसरे राज्यों की पुलिस के लिए उदाहरण है।
-9 लाख 70 हजार लोगों के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर दिए जा रहे हैं।
-16 लाख लोगों को बिजली का कनेक्शन दिया है, जिनमें से 6 लाख गरीबी रेखा से नीचे हैं।

Share on

Leave a Reply