मुख्यमंत्री योगी आज कई परियोजनाओं की समीक्षा करेंगे, शिक्षक भर्ती के संबंध में देंगे निर्देश

लोकसभा चुनाव निपट जाने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर से सरकारी बैठकों का सिलसिला शुरू करने जा रहे हैं। इसमें विकास कार्यों की समीक्षा होगी।

सीएम योगी आदित्यनाथ मंगलवार शाम को पहले पूर्वांचल एक्सप्रेस वे, बुंदेलखंड एक्सप्रेस  वे, गंगा एक्सप्रेस वे, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे प्रोजेक्ट में अब तक हुए काम की  समीक्षा करेंगे। इसके बाद सीएम गन्ना मूल्य भुगतान के संबंध में बैठक होगी। तीसरी बैठक में सीएम गेहूं खरीद के संबंध में अधिकारियों को जरूरी निर्देश देंगे। इसके अलावा 68 हजार बेसिक शिक्षकों की भर्ती सुप्रीम कोर्ट के आदेश के संबंध में अधिकारियों को जरूरी निर्देश देंगे। इसके अलावा कानपुर,  आगरा, लखनऊ मेट्रो व प्रेक्षागृह निर्माण के संबंध में बैठक होगी। यह सारी बैठकें सीएम आवास पर होंगी।

सीएम आज गेहूं खरीद की समीक्षा करेंगे
खाद्य विभाग की प्रमुख सचिव निवेदिता शुक्ला वर्मा ने सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर जिलों में गेहूं की सरकारी खरीद का हाल जाना। उन्होंने बीते साल की तुलना में गेहूं खरीद कम होने के कारणों की भी जानकारी ली। सूत्रों के अनुसार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को गेहूं खरीद की समीक्षा करेंगे।

बीते साल प्रदेश में अब तक 36 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद हो चुकी थी। जबकि सरकारी खरीद का लक्ष्य 50 लाख मीट्रिक टन था। इस बार प्रदेश सरकार ने खरीद के लक्ष्य को बढ़ा कर 55 लाख मीट्रिक टन कर दिया था। लेकिन सरकारी खरीद इस बार उम्मीद से पीछे चल रही है। अब तक 27 लाख 31 हजार मीट्रिक टन ही खरीद हो सकी है। इस तरह बीते साल की तुलना में करीब 9 लाख मीट्रिक टन सरकारी खरीद पीछे चल रही है। जबकि इस बार 5 लाख मीट्रिक टन लक्ष्य भी अधिक है।

सूत्रों के अनुसार जिन जिलों में बीते साल की तुलना में गेहूं खरीद ज्यादा पीछे है वहां के अधिकारियों से श्रीमती वर्मा ने इसके कारणों पर विस्तार से बात की। अधिकारियों का कहना था कि समर्थन मूल्य की तुलना में बाजार भाव अधिक है। इस कारण किसान सरकारी खरीद केन्द्रों पर नहीं आ रहे। मथुरा आदि पड़ोसी राज्यों के सीमावर्ती जिलों के अधिकारियों ने बताया कि गेहूं हरियाणा और दिल्ली चला गया है। कुछ अधिकारियों ने बताया कि बाजार भाव लगातार बढ़ने के कारण किसान भी गेहूं रख रहे हैं। जिसे आगे और दाम बढ़ने पर किसान निकालेंगे।

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published.