भाजपा राज में सुशासन साकार होने की दिशा में तेजी से अग्रसर – मनीष शुक्ला

-गांव, गरीब, किसान, उद्योग की स्थिति में प्रतिदिन सुधार

एलायंस टुडे ब्यूरो

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी सरकार आने से सुशासन का राज आया है। गांव, गरीब, किसान से लेकर उद्योगों तक की स्थिति में दिन प्रतिदिन सुधार आ रहा है। प्रदेश में कानून व्यवस्था में अप्रत्याशित सुधार आया है। निवेश के लिए सकारात्मक माहौल बना है इस माहौल को बनाए रखने के लिए प्रदेश की योगी सरकार कृत संकल्पित है। लखनऊ में हो रही इनवेस्र्ट समिट इन्हीं भागीरथ प्रयासों का परिणाम है। उक्त उद्गार भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता मनीष शुक्ल ने आज पार्टी मुख्यालय पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए व्यक्त किये। म…….शुक्ल ने कहा कि यह पहली बार है कि निजी क्षेत्र के उद्यमियों को आमत्रित करने के साथ साथ विभिन्न सरकारी विभागों के उपक्रमों को उत्तर प्रदेश में लगाये जाने के लिए सरकार द्वारा प्रयास किया जा रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ विभिन्न केन्द्रीय मंत्रियों से मिलकर उनके विभाग से सम्बधित निवेश के लिए उन्हें आंमत्रित किया है। प्रदेश प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी अदित्य नाथ ने केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से कमाण्डो प्रशिक्षण केन्द्र के साथ फारेंसिक और साइबर लैब बनाए जाने की मांग की। केन्द्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान से गोरखपुर में बायोइथनाॅल की इकाई लगाए जाने के लिए 25 हजार करोड़ रूपये के निवेश पर चर्चा हुई। केन्द्रीय विज्ञान एवं प्रद्योगिकी मंत्री डाॅ. हर्षवर्धन से नेशनल इस्टीयूट आॅफ मेडिकल बायोलाॅजी की स्थापना के लिए चर्चा की साथ ही जापानी इन्सेफिलाइटिस और एक्यूट एक्वायर्ड स्ंिाड्रोंम जैसे रोगों पर शोध और नियंत्रण के लिए नेशनल इस्टीट्यूट आॅफ मेडिकल बायोलाॅजी की मांग की। प्रदेश की सांस्कृतिक विरासत को संजोए रखने के लिए केन्द्रीय संस्कृति मंत्री डाॅ. महेश शर्मा से इलाहाबाद में डिजिटल कुम्भ म्यूजियम और शिल्प ग्राम के लिए 266 करोड़ रूपये, अयोध्या मे रामकथा सग्रालय के लिए 27 करोड़ रूपये की मांग की। लखनऊ के रेजीडेन्सी, बांदा के कलिंजर किले के लिए महोबा के मदन सागर और कीरत सागर जैसी पुरातात्विक विरासत कों संजोने के लिए साउन्ड और लाइट सो के लिए तमाम विभागीय प्रमाण पत्र को लेने पर बात हुई। म…..शुक्ल ने बताया कि केन्द्र और प्रदेश में भाजपा सरकार होने से विकास की रफ्तार बढ गई है। हम अपने संकल्प पत्र के प्रत्येक वादा को पूरा करने के लिए कृत संकल्पित है। हमने अपनी प्रत्येक योजना में जन-भावनाओं को ध्यान में रखा है। हम आने वाले दिनों में उत्तर प्रदेश को उत्पादक और निर्माता प्रदेश की श्रेणी में लाकर खड़ा करेंगे। गाॅवों से पलायन रूकेगा और स्थानीय स्तर पर अर्थव्यवस्था को सुदृढ बनाने में मदद मिलेगी। हम 2019 के चुनाव में अपने जनहितकारी कामों को लेकर जनता के बीच जाएगंे एवं पुनः मोदी को प्रधानमंत्री बनायेंगे।

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published.