पॉलिथीन से सड़क बनाएगा एलडीए, ये होंगे फायदे

एलडीए शहर में पॉलिथीन से सड़क बनाने जा रहा है। इसकी तैयारियां हो गयी हैं। प्रयोग के तौर एलडीए सबसे पहले तीन सड़कें बनाएगा। इसके लिए उसने आईआईटी कानपुर से भी मदद मांगी है। चुनाव के बाद सड़कों के निर्माण का काम शुरू होगा।

एलडीए शहर में पहली बार नई तकनीक से सड़क बनाने जा रहा है। इसमें सड़क बनाने में इस्तेमाल होने वाली बजरी, गिट्टी व डामर में पॉलिथीन भी मिलाई जाएगी। एलडीए के मुख्य अभियंता इंदू शेखर सिंह के मुताबिक पालिथीन मिक्स करने से डामर, बजरी व गिट्टी की ताकत और बढ़ जाएगी। मजबूती के साथ इसकी उम्र डामर व आरसीसी से बनने वाली सड़कों से काफी ज्यादा होगी। इससे आने वाले समय में काफी राहत मिलेगी।

चेन्नै,आंध्र प्रदेश व केरल में सड़कें बनीं

मुख्य अभियंता के मुताबिक अभी चैन्ने, आंध्र प्रदेश, केरल तथा महाराष्ट्र में इस तरह की सड़कें बनाई जा रही हैं। एलडीए ने कुछ शहरों में टीम भेजकर इसका अध्ययन कराया है। आईआईटी ने डामर, बजरी, गिट्टी में पॉलिथीन मिलाने की मात्रा का परीक्षण कर जल्दी ही रिपोर्ट देने को कहा है। अगर ये योजना सफल रहती है तो शहर में पॉलिथीन की समस्या से भी काफी हद तक छुटकारा मिलेगा।

पॉलिथीन से सड़क बनाने के ये होंगे फायदे

पॉलिथीन की सड़क डामर व आरसीसी से बनने वाली सड़कों से ज्यादा मजबूत होगी
ऐसी सड़कों को बारिश में पानी एकत्र होने पर भी कोई नुकसान नहीं होगा
सड़क में पॉलिथीन  का इस्तेमाल होने से इस्तेमाल की हुई पॉलिथीन की खपत भी हो जाएगी
पॉलिथीन  के कचरे से शहर को मुक्ति मिलेगी
शहर साफ सुथरा और पॉलिथीन मुक्त दिखेगा

तीन साल तक नजर रखी जाएगी सड़कों पर

पॉलिथीन  से सड़क बनाने की तैयारी पूरी कर ली गई है । आईआईटी कानपुर से कुछ मदद मांगी गयी है। उसने मदद देने पर अपनी सहमति दे दी है। फिलहाल प्रयोग के तौर पर तीन सड़कें बनाने की तैयारी है। इन सड़कों पर तीन साल तक नजर रखी जाएगी। बाद में शहर की अन्य कालोनियों में भी पॉलिथीन से सड़कें बनायी जाएंगी।
इंदु शेखर सिंह, मुख्य अभियंता, एलडीए

100 मीटर सड़क बनाने में 7.50 लाख पॉलिथीन लगेगी

एलडीए अधिकारियों के मुताबिक 100 मीटर सड़क बनाने में दो से 5 किलो साइज की करीब 7.50 लाख पॉलिथीन इस्तेमाल होगी। प्राधिकरण के मुख्य अभियंता के मुताबिक इसी रेशियो में दूसरे शहरों में पॉलिथीन मिक्स कर सड़कें बनाई जा रही हैं।

Share on

Leave a Reply