पीएम मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनपिंग की ने एक दूसरे से मुलाकात

एलायंस टुडे ब्यूरो

वुहान। सिक्किम सेक्टर में डोकलाम विवाद के बाद पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनपिंग की एक दूसरे से मुलाकात हुई। चीनी शहर वुहान के हूबेई प्रोविंशियल म्यूजियम में राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत किया, दोनों नेताओं ने गर्मजोशी से एक-दूसरे से हाथ मिलाया। भारतीय प्रधानमंत्री के स्वागत में हूबेई प्रोविंशियल म्यूजियम में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जहां दोनों नेता कार्यक्रम का लुत्फ उठाते दिखे। इसके बाद दोनों के बीच बैठक शुरू हुई। इस बैठक में दोनों देशों के राष्ट्राध्यक्षों के अतिरिक्त प्रतिनिधि भी शामिल रहे। भारत की तरफ से राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवाल भी इस बैठक के दौरान मौजूद रहे। गौरतलब है कि भारत और चीन दोनों ने अपने शीर्ष नेताओं की इस मुलाकात को अनौपचारिक भेंट बताया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति शी जिनपिंग 24 घंटे में 6 बार एक दूसरे से मिलेंगे और विभिन्न मसलों पर बातचीत करेंगे, लेकिन इस बैठक में दोनों देशों के बीच ना तो कोई समझौता होगा और ना ही कोई संयुक्त बयान जारी होगा। चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स में छपे एक लेख में मोदी-जिनपिंग की मुलाकात को दोनों देशों के रिश्ते में नए अध्याय की शुरुआत बताया गया है। चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स में छपे लेख में कहा गया कि भारत और चीन के बीच एक दूसरे के प्रति अविश्वास की भावना है, जो डोकलाम में 72 दिनों तक चले सैन्य गतिरोध के बाद और बढ़ी है। इस अनौपचारिक शिखर बैठक से दोनों देशों के रिश्तों में जारी तनाव को कम करने और आपसी विश्वास बहाली में मदद मिलेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ 6 प्रतिनिधिमंडल का एक समूह भी है। दूसरे राउंड की बैठक में ये प्रतिनिधि मंडल का समूह शामिल होगा। शुक्रवार की रात श्ईस्ट लेक गेस्ट हाउसश् में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए रात्रि भोज का आयोजन करेंगे। शनिवार को इसी गेस्ट हाउस में ही प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति जिनपिंग के बीच बातचीत होगी। इस दौरान दोनों नेता श्ईस्ट लेकश् में नाव की सवारी भी करेंगे। उसके बाद दोपहर भोज का आयोजन होगा।

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published.