नेपाल की राजधानी काठमांडू में विमान हादसा, 50 लोगों की मौत


एजेंसी

नई दिल्ली। सोमवार को नेपाल की राजधानी काठमांडू में त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर हुए हादसे में कम से कम 50 लोगों की मौत हो गई। अमेरिकी-बांग्ला एयरलाइंस के विमान में 71 लोग सवार थे। 21 लोगों को बचा लिया गया है। इन लोगों को विमान के पिछले हिस्से को काटकर निकाला गया। सभी का अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है। काठमांडू पोस्ट ने हवाईअड्डे के प्रवक्ता प्रेमनाथ ठाकुर के हवाले से बताया कि विमान उतरते वक्त रनवे पर लडखड़ा गया और इसमें आग लग गई। इसके बाद यह हवाईअड्डे के पास एक फुटबाल मैदान में जाकर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। विमान ने ढाका से उड़ान भरी थी और स्थानीय समयानुसार दोपहर 2रू20 बजे यह हवाईअड्डे पर उतरा। फिलहाल यहां आने वाली सभी उड़ानों को रोक दिया गया है। पर्यटन मंत्रालय के संयुक्त सचिव सुरेश आचार्य ने बताया कि सभी घायलों को अलग-अलग अस्पतालों में पहुंचाया गया है। विमान में चालक दल के अलावा 38 पुरुष, 27 महिलाएं और दो बच्चों को सवार थे। नेपाल के एक अन्य समाचार पत्र श्हिमालयन टाइम्स ने बताया है कि करीब दस शवों को बाहर निकाल लिया गया है। कई शव बुरी तरह जले हुए हैं। ठाकुर के मुताबिक सेना और स्थानीय पुलिस कर्मचारी प्लेन के हिस्से को काटकर अंदर फंसे लोगों को निकाला गया है।सिविल एविएशन अथॉरिटी ऑफ नेपाल के डीजी संजीव गौतम ने बताया कि विमान को रनवे के दक्षिणी छोर पर लैंडिंग करने की अनुमति मिली थी लेकिन यह उत्तरी तरफ से लैंडिंग करने लगा। इसलिए हम हादसे के सही कारणों का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं। अधिकारियों ने विमान में तकनीकी खराबी की आशंका भी जाहिर की है। बीबीसी ने ढाका स्थित नेपाली दूतावास के हवाले से बताया कि दुर्घटना के समय विमान में चालक दल के अलावा 33 नेपाली और 32 बांग्लादेशी नागरिक सवार थे। विमान में चीन और मालदीव का भी एक-एक नागरिक था।

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published.