जयपुर के रामगंज इलाके में पुलिसकर्मी के द्वारा एक युवक को डंडे से मारने के बाद तनाव की स्थिति पैदा हो गई।

राजस्थान की राजधानी जयपुर के रामगंज इलाके में पुलिसकर्मी के द्वारा एक युवक को डंडे से मारने के बाद तनाव की स्थिति पैदा हो गई। जिसके बाद स्थानीय लोगों ने पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया। मामले को बढ़ता देख प्रशासन ने जयपुर के चार थानों में कर्फ्यू लगा दिया गया है। साथ ही इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई है। रामगंज, गलता गेट, बड़ी चौपड़, मानक चौक और सुभाष चौक पुलिस थाना क्षेत्र में कर्फ्यू लगाया गया है।
दरअसल, पुलिसकर्मी के द्वारा युवक के साथ मारपीट से नाराज लोग बड़ी संख्या में रामगंज थाने पर इकट्ठा हो गए। थाने के बाहर आक्रोशितों ने पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। नारेबाजी करने के दौरान ही भीड़ में से कुछ ने थाने पर पथराव किया और ट्रांसफॉर्मर में आग लगा दी। भीड़ ने थाने के बाहर खड़ी चार गाड़ियों को भी आग के हवाले कर दिया। साथ ही एक दर्जन पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट कर उन्हें घायल कर दिया।
पुलिस ने आंसू गैस छोड़े
जिसके बाद उपद्रवियों को नियंत्रित करने के लिए जिला प्रशासन ने तुरन्त विभिन्न थानों के 150 जवानों के मौके पर भेजा। साथ ही एसटीएफ और क्यूआरटी के जवानों को भी रामगंज में तैनात किया गया। मामला बिगड़ता देख पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज भी किया। पुलिस की लाठीचार्ज और हवाई फायरिंग में एक युवक की मौत हो गई। युवक चारदीवारी इलाके में पतंग वाले मोहल्ले का निवासी आदिल था।

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published.