कॉमनवेल्थ गेम्स: भारतीय शटलर किदांबी श्रीकांत से देश को बड़ी उम्मीद

एलायंस टुडे ब्यूरो

नई दिल्ली। भारतीय शटलर किदांबी श्रीकांत कॉमनवेल्थ गेम्स में देश के लिए पदक की बड़ी उम्मीद होंगे। श्रीकांत अपने करियर के सुनहरे दौर से गुजर रहे हैं और उम्मीद की जा रही है कि उनका यह दौर गोल्ड कोस्ट में भी जारी रहेगा। कॉमनवेल्थ गेम्स में संभावनाओं और तैयारियों को लेकर श्रीकांत से विशेष बातचीत की गई।

कॉमनवेल्थ गेम्स में बैंडमिंटन में भारत की क्या संभावनाएं है?

मुझे लगता है कि इस बार भारत की संभावनाएं काफी अच्छी हैं। खिलाड़ी पूरी तरह मेहनत कर रहे हैं और उम्मीद है कि हर खिलाड़ी अगर अपने क्षमता के अनुसार खेले तो परिणाम काफी अच्छा होगा।

इस आयोजन में आपके लिए सबसे बड़ी चुनौती कौन साबित होगा?

कॉमनवेल्थ गेम्स की बात करें तो इस टूर्नामेंट में एचएस प्रणय, मलेशिया के ली चोंग वेइ और इंग्लैंड के राजीव ओसेफ से मुझे कड़ी चुनौती मिलने की उम्मीद है।

आपकी तैयारियां कैसी रही हैं?

हमारी तैयारी काफी अच्छी रही हैं। हम पिछले चार-पांच हफ्ते से काफी अच्छी तैयारी कर रहे हैं। मैं पूरी तरह फिट महसूस कर रहा हूं और उम्मीद है।

आपने 2011 यूथ कॉमनवेल्थ गेम्स के डबल्स में कांस्य और मिक्स्ड डबल्स में रजत पदक जीता, आप डबल्स में क्यों नहीं खेलते?

जी हां, लेकिन यह काफी पुरानी बात है। पिछले सात वर्षो में कई चीजें बदल चुकीं हैं। अब मैं भारत का प्रतिनिधित्व सिंगल्स में करता हूं। साथ ही मौजूदा समय में मिक्स्ड डबल्स में भी भारत की तरफ से प्रतिनिधित्व करने वाले कई अच्छे खिलाड़ी हैं। मैं सिंगल्स वर्ग में ही खेलकर खुश हूं और मुझे नहीं लगता कि अपने खेल या वर्ग में मुझे किसी भी तरह की बदलाव करने की जरूरत है।

आपके अलावा साई प्रणीत और एचएस प्रणय का नाम भी भारत के स्टार शटलर्स की सूची में आता है। दोनों में कौन ज्यादा बेहतर है और क्यों?

दोनों खिलाड़ियों में से किसी एक को बेहतर कहना मुश्किल है क्योंकि दोनों ने हाल के दिनों में अच्छा खेल दिखाया है और अलग-अलग उपलब्धियां हासिल की हैं। ऐसे में दोनों के बीच तुलना करना काफी कठिन है।

भारतीय बैंडमिंटन को शिखर पर ले जाने वाले कोच गोपीचंद के साथ आपका अब तक का सफर कैसा रहा?

मैं गोपी सर की देख-रेख में पिछले नौ वर्षो से अभ्यास कर रहा हूं। मैं सौभाग्यशाली हूं कि मुझे उनसे सिखने का मौका मिला है। कई बार मैच के दौरान कठिन परिस्थितियों में उनके सुझाव बहुत काम आते हैं। मुझे खुशी है की मुझे उनके जैसा कोच मिला।

बैडमिंटन और दूसरे खेलों में आपके पसंदीदा खिलाड़ी कौन हैं और आप किसे अपना आदर्श मानते हैं?

बैडमिंटन में चीन के शटलर लिन डैन मेरे पसंदीदा खिलाड़ी हैं। वह जिस तरीके से खेलते हैं और जितनी उपलब्धियां उन्होंने हासिल की हैं, वो बेहतरीन है। किसी भी शटलर के लिए दो ओलंपिक स्वर्ण पदक जीतना आसान नहीं है लेकिन लिन ने यह कारनामा किया है। अन्य खेलों में टेनिस स्टार रोजर फेडरर और क्रिकेट में महेंद्र सिंह धौनी मेरे पसंदीदा खिलाड़ी हैं।

 

Share on

Leave a Reply