एससी-एसटी एक्टः कोरी समाज के लोगों ने किया विरोध प्रदर्शन

एलायंस टुडे ब्यूरो

लखनऊ। भारतीय कोरी समाज के नेतृत्व में प्रदेश भर के कोरी समाज के लोगों ने सोमवार को हजरतगंज स्थित अम्बेडकर प्रतिमा के सामने धरना दिया और सर्वोच्च न्यायालय द्वारा एससी-एसटी एक्ट को निष्क्रिय बनाने के विरोध में किया। बाद में अपर जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, कानून मंत्री व मुख्य न्यायाधीश को ज्ञापन भेजा।

भारतीय कोरी समाज, भारत के तत्वावन में धरने में हजारों संख्या में कोरी समाज के लोग एकत्र हुए। देखते-देखते अनुसूचित वर्ग के अन्य संगठनों के लोग समर्थन में सैकड़ों की संख्या में पहुंच गए और एससी- एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को वापस लेने के लिये नारे लगाये। मनुवादियों होश में…..सुप्रीम कोर्ट के फैसले वापस लो….वापस लो…।
धरने को संबोधित करते हुए भारतीय कोरी समाज के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष कोरी सुभाष चंद्र लहरी ने कहा कि प्रदेश समेत पूरे देश में दलितों का उत्पीड़न बड़े पैमाने पर हो रहा है। ऐसे में एससी-एसटी एक्ट को निष्क्रिय बनाने पर दलितों का उत्पीड़न और बढ़ जाएगा । उन्होंने बताया कि कोरी समाज एससी-एसटी एक्ट को प्रभावी बनाने के लिए लगातार आंदोलन करता रहेगा । प्रदर्शन में हमारा दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वदेश कोरी, सतगुरू कबीर विचार संस्थान की अध्यक्ष सावित्री दीवान, राम नाथ ,राम चरन, राम पाल, हेमंत, सूरजभान, माता फेर, दिनेश समेत काफी तादाद में लोग शामिल हुए।

Share on

Leave a Reply