एशियाई चैम्पियनशिप: भारत के तीरंदाजों को मिला 3 गोल्ड और 9 मैडेल

भारतीय तीरंदाजों ने ढाका में एशियाई चैम्पियनशिप में शानदार प्रदर्शन करते हुये तीन स्वर्ण, चार रजत और दो कांस्य पदक अपने नाम किये। इस दौरान दो बालक और बालिकाओं ने 2018 युवा ओलंपिक के लिये क्वालीफाई भी किया। हरियाणा की 15 वर्षीय हिमानी कुमारी ने मंगोलिया की बायास्गालन बदामजुआनी को रिकर्व कैडेट स्पर्धा में 7-1 से हराकर कांस्य पदक जीतने के साथ युवा ओलंपिक का कोटा हासिल किया। इससे पहले दो भारतीयों के बीच हुये कैडेट रिकर्व के फाइनल मुकाबले हरियाणा के 14 साल के अकर्ष ने आंध्र प्रदेश के धीरज बोम्मादेवरे को 6-4 से शिकस्त देकर युवा ओलंपिक में स्थान पक्का किया। इस टूर्नामेंट से अर्जेंटीना के ब्यूनसआयर्स में होने वाले 2018 युवा ओलंपिक के लिये कोटा हासिल किया जा सकता है। जयंत तालुकदार, अतनु दास और यशदेव की भारतीय टीम सीनियर पुरूष रिकर्व स्पर्धा में कोरियाई टीम से 1-5 से हार गये। उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा। भारत को गैर ओलंपिक कम्पाउंड स्पर्धा में भी दो स्वर्ण पदक मिले। अभिषेक वर्मा ने कोरिया के किम जोंग्हो को मात देकर स्वर्ण अपने नाम करने के साथ स्पर्धा में कोरिया को क्लीनस्वीप करने से भी रोका।

वर्मा पुरूषों की टीम को हालांकि स्वर्ण नहीं दिला सके। वर्मा, गुरविंदर सिंह और रजत चौहान कम्पाउंड टीम स्पर्धा के फाइनल में कोरियाई टीम से दो अंकों से पीछे रह गये। कोरिया ने भारत को 234-232 से हराकर स्वर्ण पदक जीता।

ज्योति सुरेखा वेन्नाम, तृषा देव और प्रवीणा की भारतीय महिला कम्पाउंड टीम ने सो चाइवोन, चोई बोमिन और सोंग यून सू को कड़े मुकाबले में 230-227 से हराकर सोने का तमगा अपने नाम किया। भारत की मिश्रित टीम को कम्पाउंड टीम स्पर्धा के फाइनल में कोरिया से हार कर रजत पदक से संतोष करना पड़ा।

Share on

Leave a Reply