उत्तर प्रदेश में कहीं तेज धूप कहीं उमस तो कहीं जमकर बारिश

एलायंस टुडे ब्यूरो

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में रविवार को भी मौसम अलहदा रहा। पश्चिम में तीखी तेज धूप और गर्म हवाओं का पहरा रहा तो मध्य पूर्व और पूर्वी उत्तरप्रदेश के विभिन्न हिस्सों में बादल जमकर बरसे। गर्मी से राहत मिली पर बारिश के बाद उमस ने पसीने छुड़ाए रखे। वहीं बिजली गिरने से पांच लोगों की मौत हो गई। राजधानी लखनऊ और आसपास के अधिकांश जिलों में बादल छाए रहे। अमेठी में तेज हवाओं के साथ बरसात हुई। गौरीगंज के रोहसीखुर्द गांव में बिजली गिरने बच्चे की मौत हो गई जबकि महिला झुलस गई। रायबरेली में रविवार को झमाझम बारिश हुई। बलरामपुर में चुभन भरी गर्मी से लोग बेहाल रहे। बाराबंकी, सुलतानपुर में हल्की बारिश हुई। पूर्वांचल में रविवार शाम को वाराणसी, भदोही, जौनपुर, चंदौली, मीरजापुर और सोनभद्र आदि जिलों में काले बादल छाने के बाद झमाझम बारिश हुई। मीरजापुर के हिनौता ग्राम पंचायत के लतीफपुर गांव में बारिश के दौरान बिजली की चपेट में आने से पिता पुत्र की मौत हो गई जबकि रामपुर ढबही गांव में वृद्ध की मौत हो गई। हलिया थाना क्षेत्र के नौगवां अमहा गांव में युवती झुलस गई।
बुंदेलखंड के कुछ जिलों में आंधी के बाद बारिश हुई। चित्रकूट में बिजली गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई और पांच लोग झुलस गए। इटावा में आंधी में छत से गिर कर वृद्धा और फर्रुखाबाद में दीवार गिरने से युवक की मौत हो गई। इटावा में अधिकतम 38 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। बांदा में अधिकतम तापमान गिरकर 40 डिग्री पहुंचा। हमीरपुर में तेज धूप रही। महोबा में तीन घंटे की बारिश से तापमान गिरकर अधिकतम 38 डिग्री सेल्सियस रहा। उरई में भी पारा 40 डिग्री पर टिका। फतेहपुर में कुछ स्थानों पर बारिश हुई। अधिकतम पारा 38 डिग्री सेल्सियस रहा। औरैया में भी बारिश ने राहत दी। पारा 40 डिग्री पर रहा। फर्रुखाबाद में अधिकतम तापमान 38.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। कन्नौज का भी लगभग यही तापमान रहा। उन्नाव में अधिकतम तापमान 38 डिग्र्री सेल्सियस रहा। कानपुर में बादल रहे पर बारिश नहीं हुई। अधिकतम पारा जरूर 37.8 डिग्री सेल्सियस रहा। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ, आगरा, बरेली, मुरादाबाद में तेज धूप के साथ गर्म हवाएं चलीं। मंडराते बादलों के बीच उमस ने सताया। अलीगढ़ में दिनभर तेज धूप निकली। अधिकतम तापमान 38.2 डिग्र्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यही हाल हाथरस जिले में रहा।

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published.