उत्तर कोरिया पर ट्रम्प के साथ मतभेद की खबरें गलतः मैटिस

वाशिंगटन। अमेरिका के रक्षा मंत्री जिम मैटिस ने उत्तर कोरिया के साथ तनावों से निपटने के लिये सर्वश्रेष्ठ रणनीति पर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ मदभेदों को लेकर दावों का खंडन किया है। उन्होंने कहा कि उनकी टिप्पणियों का ‘‘व्यापक रूप से गलत अर्थ’’ निकाला गया। ट्रम्प ने बुधवार को अस्पष्ट तौर पर कहा था कि उत्तर कोरिया के साथ कूटनीति खत्म हो गयी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि ‘‘बातचीत इसका जवाब नहीं है।’’

ट्वीट के कुछ घंटे बाद जब मैटिस से इस बारे में पूछा गया तो वह इससे असहमत नजर आये थे। उन्होंने कहा कि ‘‘हम लोग कभी कूटनीतिक समाधान से अलग नहीं हुए हैं।’’ लेकिन गुरुवार को मैटिस ने इस बात पर जोर दिया था कि ‘‘इसमें कुछ विरोधात्मक’’ नहीं है और उन्होंने कहा कि रिपोर्टों में उनकी टिप्पणियों का ‘‘व्यापक रूप से गलत अर्थ’’ निकाला गया। उन्होंने कहा, ‘‘मुझसे पूछा गया था कि क्या कोई कूटनीतिक प्रयास चल रहा है और इसके जवाब में मैंने कहा था, हां बेशक। कूटनीति में संयुक्त राष्ट्र में मुद्दा उठाकर, आर्थिक रोकथाम को शामिल किया जा सकता है। सिर्फ बातें करने से नहीं होगा। राष्ट्रपति ने जो कुछ भी कहा यह उसका विरोधात्मक नहीं है। हम लोग उत्तर कोरिया से इस वक्त कोई बातचीत नहीं करने जा रहे हैं। इसका गलत अर्थ निकाला गया। मैं उनकी कोई मदद नहीं कर सकता जो चीजों का गलत मतलब निकालते हैं।’’

मैटिस ने उत्तर जापान के ऊपर से उत्तर कोरियाई बैलिस्टिक मिसाइल के प्रक्षेपण को दुस्साहसिक बताया। उन्होंने कहा, ‘‘हम लोग अपना और अपने सहयोगियों की रक्षा करेंगे।’’ एक प्रश्न के जवाब में मैटिस ने कहा कि उत्तर कोरिया अपेक्षाकृत कम समय में ऐसा (परमाणु परीक्षण) कुछ कर सकता है।

Share on

Leave a Reply