अमेरिका ने दिया हाफिज सईद को तगड़ा झटका, मिल्ली मुस्लिम लीग को आतंकवादी संगठन घोषित किया

एजेंसी

नई दिल्ली। जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफिज सईद को अमेरिका ने तगड़ा झटका दिया है। अमेरिका ने मिल्ली मुस्लिम लीग को मंगलवार कोे एक आतंकवादी संगठन घोषित कर दिया है। एमएमएल मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज सईद के नेतृत्व वाले आतंकवादी संगठन जमात- उद दावा का राजनीतिक मोर्चा है। अमेरिका ने एमएमएल के साथ इसके सात सदस्यों को भी विदेशी आतंकवादी घोषित किया है। इसका मतलब है कि पाकिस्तान की राजनीति में अपने पैर जमाने की कोशिश में जुटे हाफिज सईद ने जिस राजनीतिक पार्टी का गठन किया था वह अब अमेरिका के आतंकी संगठनों की लिस्ट में शामिल हो गई है। मंगलवार को अमेरिका के राज्य विभाग ने आंतकी संगठनों की सूची में पाकिस्तान स्थित प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयब्बा (एलइटी) और तहरीक-ए-आजादी-ए कश्मीर (ताजक) को भी शामिल करने के लिए संशोधन प्रस्ताव पेश किया। इस दौरान अमेरिका ने हाफिज सईद के राजनीतिक संगठन मिल्ली मुस्लिम लीग के 7 सदस्यों को भी लश्कर-ए-तैयबा की ओर से आतंकी गतिविधियों में शामिल होने के कारण विदेशी आतंकी घोषित किया है। बता दें कि मिल्ली मुस्लिम लीग पर अमेरिका ने यह कदम ऐसे वक्त में उठाया है जब पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने एमएमएल को राजनीतिक दल के रूप में मंजूरी नहीं दी है। पाकिस्तान चुनाव आयोग एमएमएल पार्टी को एक राजनीतिक दल के रूप में पंजीकरण के लिए आवेदन को भी खारिज कर चुका है। गौरतलब है कि लश्कर-ए-तैयबा का गठन 1980 में हुआ। 2008 में मुंबई में हुए आतंकी हमलों का मास्टरमाइंड हाफिज सईद ही है। मुंबई हमलों में हाफिज के इसी संगठन का हाथ है। उस हमले में 166 लोगों की जान चली गई थी।

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published.