अदालत का कोई फैसला लोगों के साथ मेरा संबंध कमजोर नहीं कर सकताः नवाज शरीफ

नवाज शरीफ ने रविवार को कहा कि अदालत का कोई फैसला लोगों के साथ उनके संबंध को कमजोर नहीं कर सकता। दरअसल, पाकिस्तान के अपदस्थ प्रधानमंत्री ने पनामा पेपर कांड के मद्देनजर जन समर्थन जुटाने के लिए सत्तारूढ़ पीएमएल (एन) पार्टी का अभियान शुरू किया है। एक्सप्रेस ट्रिब्यून की खबर के मुताबिक पनामा पेपर मामले में अपने खिलाफ आदेश का जिक्र करते हुए शरीफ ने कहा कि चार या पांच लोग लाखों लोगों के भाग्य का फैसला नहीं कर सकते। शरीफ ने कहा कि यदि किसी को लगता है कि मैं हार जाउंगा तो वे लोग गलत हैं। मैं उनमें से नहीं, जो यहां हारने जा रहे हैं। हम विकास परियोजनाओं पर लगातार काम कर रहे हैं। शरीफ और उनके परिवार के कुछ सदस्य पनामा पेपर कांड के सिलसिले में लंदन स्थित संपत्ति के अपने मालिकाना हक से जुड़े आरोपों का सामना कर रहे हैं। गौरतलब है कि उन्होंने जुलाई में प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने अघोषित आय को लेकर उन्हें अयोग्य ठहराया था।

Share on

Leave a Reply

Your email address will not be published.