मैसूर, कर्नाटक भेजे गए गोण्डा के रेशम किसान

प्रशिक्षण के समय आने वाले खर्च को वहन करेगी सरकार, खेती से बढ़ेगा मुनाफा

एलायंस टुडे ब्यूरो

गोंण्डा। रेशम विभाग ने रेशम कीड़ा पालन को लेकर गोंण्डा के 20 किसानों को गैर प्रदेशों में प्रशिक्षण दिलाये जाने के लिए चुना है। किसानों का जत्था शनिवार की सुबह ट्रेन से रवाना किया गया। रेशम विभाग के उपनिदेशक सत्येंद्र सिंह ने बताया कि किसानों के प्रशिक्षण का सारा खर्च सरकार वहन करेगी।किसानों को प्रशिक्षण के लिए कर्नाटक और मैसूर भेजा गया है। पहले कीड़ों के पालन सही जानकारी नहीं होने से अधिकांश कीड़ों की मौत हो जाती थी जिसके कारण किसानों को नुकसान पहुंचता था। रेशम उपनिदेशक सत्येंद्र सिंह ने बताया कि प्रशिक्षण के बाद से अब किसान अधिक मुनाफा कमा सकते हैं। प्रशिक्षण के लिए आने जाने के खर्च के साथ ठहरने और खाने का प्रबंध भी सरकार की ओर से है। शहतूत की पौध की किस्मों की भी दी जायेगी जानकारी:प्रशिक्षण में अधिक उपज के शहतूत किस्मों और उनके पौधों के पौध रोपण की भी जानकारी वैज्ञानिकों द्वारा दी जाएगी। इससे किसानों को इसकी खेती में अधिक मुनाफा कमा सकेंगे।

Share on
Loading Likes...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *