मछली से ब्रैन कैंसर का प्रभावी उपचार संभव हो सकेगा

एक नए शोध में पता चला है कि ऐसी मछलियां जिनमें जबड़े नहीं होते, उनमें एक प्रकार का रसायन पाया जाता है जिसके जरिए ब्रेन ट्यूमर में कैंसर रोधी दवाएं सीधे तौर पर पहुंचाईं जा सकती हैं। यह शोध साइंस एडवांसेज पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।

अन्य विकारों का भी होगा उपचार : शोध में पाया गया कि परजीवी सी लैम्प्रे के प्रतिरोधक तंत्र में पाए जाने वाले अणुओं को अन्य उपचारों के साथ मिलाया जा सकता है और इससे अन्य प्रकार के विकार जैसे ‘मल्टीपिल क्लिरोसिस’ अल्जाइमर और ‘आघात’ का उपचार हो सकता है। अमेरिका के मैडिसन-विस्कोन्सिन विश्वविद्यालय के प्रोफेसर एरिक शूस्ता कहते हैं, ‘ कई स्थितियों में इसे मूल प्रौद्योगिकी के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।’ शोधकर्ताओं का कहना है कि जब दवाओं को इंजेक्शन के जरिए दिया जाता है तो कई दवाएं मस्तिष्क के लक्षित हिस्से तक पहुंच नहीं पाती क्योंकि रक्त-मस्तिष्क अवरोधक बड़े अणुओं को जाने से रोकते हैं। ब्रेन कैंसर, ट्रॉमा जैसी स्थितियों में ये अवरोधक रोग वाले क्षेत्र में छिद्रयुक्त हो जाते हैं।

लंदन। एंटीबायोटिक के प्रयोग से तंत्रिकाओं के क्षतिग्रस्त होने का खतरा बढ़ सकता है। एक अध्ययन में पता चला है कि श्वसन तंत्र और मूत्र मार्ग के संक्रमण का इलाज करने के लिए एंटीबायोटिक ली जाती हैं। लेकिन इनके सेवन से मरीज की तंत्रिकाओं को गंभीर और स्थायी रूप से पीड़ित होने का खतरा लगभग 50% बढ़ सकता है। ब्रिटेन की डूंडी यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने 13 लाख से लोगों से जुड़े आंकड़ों का विश्लेषण किया।

मुंबई। जानी मानी पार्श्व गायिका आशा भोंसले ने आइटम गर्ल राखी सावंत के लिए एक आइटम नंबर गाया है। आशा ने फिल्म ‘कश्मीर: धारा 370’ के लिये यह गाना गाया है। गाने की खासियत है कि इसे सुनकर आपको फिल्म कुबार्नी की सुपरहिट गीत ‘लैला मैं लैला’ की याद जरूर आएगी। इसे अरबी, थोड़ी उर्दू-फारसी और बाकी हिन्दुस्तानी भाषा का प्रयोग कर लिखा गया ह

Share on
Loading Likes...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *